नैशनल हाई-वे शीघ्र दे नये बस अड्डे के लिए एग्जिट:-उपायुक्त डा० आदित्य दहिया

0
Advertisement

उपायुक्त डा0 आदित्य दहिया ने नैशनल हाई-वे के अधिकारियों को निर्देश दिये कि करनाल के नये बस अड्डे की एग्जिट के लिए जल्दी से जल्दी रास्ता बनाया जाए ताकि शीघ्र ही बस अड्डे को चालू किया जा सके। इसके लिए नैशनल हाई-वे आना कानी कर रहा है,जोकि विकास में बाधा है,हर मीटिंग में सोमा कम्पनी व नैशनल हाई-वे के प्रतिनिधि बिना किसी तैयारी के आ जाते है,जिसके कारण कोई रिजल्ट नहीं निकल रहा है, इनकी ये आदत आगे बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
उपायुक्त सोमवार को लघु सचिवालय के सभागार में सडक़ सुरक्षा समिति की मासिक बैठक में प्रबंधों की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल शीघ्र ही लोगों की सुविधा के लिए करनाल के नये बस अड्डे को चालू करना चाहते है,परन्तु इससे पहले  प्रशासन को सभी आवश्यक कार्यवाही करनी है। इसके लिए नैशनल हाई-वे द्वारा जीटी रोड़ साईड से बस अड्डे की एग्जिट के लिए रास्ता देना है,परन्तु अभी तक कोई ठोस निर्णय उनकी तरफ से नहीं हुआ। उपायुक्त ने बैठक में उपस्थित नैशनल हाई-वे के प्रतिनिधि को सख्त लहजे में कहा कि एक महीने के अंदर-अंदर बस अड्डे के लिए एग्जिट का प्रबंध होना चाहिए। उन्होंने कम्पनी के प्रतिनिधियों से कहा कि इस मीटिंग में समस्या सुनने नहीं बल्कि हल करने के लिए बुलाया जाता है,आगे ऐसा नहीं चलेगा। यह जानकारी अपने उच्चाधिकारी तक भेज दो। उपायुक्त ने लोक निर्माण विभाग के कार्यकारी अभियंता योगेश मेहरा को निर्देश दिये कि इंद्री से करनाल तक फोर लेन बनाई जा रही है,इस फोरलेन का काम पहले बलड़ी बाईपास से बस अड्डे के प्रवेश द्वार तक किया जाए ताकि बस अड्डे पर आने वाली बसों को कोई दिक्कत ना हो। उन्होंने रोड़वेज के टीएम संजय रावल को निर्देश दिये कि बस अड्डा शुरू करने से पहले यह सुनिश्चित कर ले कि कोई भी बस बाहर ना खड़ी हो,ऐसी ड्राईंग बनाई जाए।
उन्होंने समिति के सदस्यों का आह्वान किया कि वे भी सडक़ सुरक्षा को लेकर समिति की मेल आई डी  पर अपना सुझाव समिति के पास भेज सकते है,उन पर गहनता से विचार किया जाएगा। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त एवं सचिव आरटीए निशांत कुमार यादव,एसडीएम घरौंडा मोहम्मद इमरान रजा,एसडीएम करनाल नरेन्द्र मलिक, एसडीएम असंध अनुराग ढालिया,शुगर मिल के एमडी प्रद्युमन सिंह,सीटीएम ईशा काम्बोज,डीएसपी राजकुमार,समिति के गैर सरकारी सदस्य संदीप लाठर,जे आर कालड़ा,नैशनल हाई-वे के प्रतिनिधि आदित्य राणा, के सहित संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
गलत दिशा में ड्राईविंग करने वालों के खिलाफ हो कार्यवाही
उपायुक्त डा०दहिया ने सडक़ सुरक्षा समिति की बैठक में संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये कि जो भी गलत दिशा में ड्राईविंग करता मिले,उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाए। ऐसे लोगों के कारण बेकसूर लोग मारे जाते है और यही लोग यातायात में सबसे ज्यादा बाधित का कारण है।
 शहर की सडक़ों से बजरी निकल रही है,संबंधित विभाग क्या कर रहे है? ठेकेदार पर हो कार्यवाही।
उपायुक्त ने बैठक में नगर निगम व हुडा के अधिकारियों को निर्देश दिये कि शहर की सडक़ों की दशा काफी खराब है। सडक़ से निकलकर बजरी लोगों के मुंह पर लग रही है। संबंधित विभाग क्या कर रहा है? कुछ शर्म करों। इन सडक़ों को तुरंत प्रभाव से ठीक करवाया जाए। उन्होंने नगर निगम के अधिकारी को कहा कि  सेक्टर-12 व 13 की सडक़ को बने अभी तीन साल भी नही हुए है,सडक़ से बजरी निकलने लग गई है। जिस ठेकेदार ने यह सडक़ बनाई है,उसके खिलाफ कार्यवाही की जाए ताकि दूसरों को इसका सबक मिल सके।
करनाल जिले की परिधि में नैशनल हाई-वे को लगाने थे चार फुट ओवर ब्रिज,अब तक क्यों नहीं लगे?
उपायुक्त ने बैठक में नैशनल हाई-वे के प्रतिनिधि से पूछा की जीटी रोड़ पर लोगों के आवगमन के लिए नैशनल हाई-वे द्वारा चार फुट ओवर ब्रिज लगाए जाने थे,परन्तु अभी तक इन पर कोई कार्यवाही क्यों नहीं हुई? उपायुक्त ने इसके लिए नैशनल हाई-वे के प्रतिनिधियों को निर्देश दिये कि तीन माह के अंदर-अंदर यह सभी फुट ओवर ब्रिज लग जाने चाहिए।
बॉक्स:-एसडीएम,सीटीएम बैठक में बताएंगे दो-दो प्वाईंट
उपायुक्त ने बैठक में जिले के सभी एसडीएम व नगराधीश को जिम्मा लगाया है कि वे प्रत्येक मासिक मीटिंग से पहले ऐसे दो-दो प्वाईंट फोटो के साथ बताएंगे,जहां सडक़ों पर गड्डे हो,अनावश्यक बिजली के पोल लगे हो व अन्य दुर्घटना से संबंधित को प्वाईंट।
पीडब्ल्यूडी,नगर निगम,हुडा तथा मार्किटिंग बोर्ड 10 कि.मी. तक सडक़ों पर दी जाने वाली सुविधा की देंगे जानकारी।
उपायुक्त ने कहा कि मुख्यालय के निर्देशानुसार पीडब्ल्यूडी,नगर निगम,हुडा तथा मार्किटिंग बोर्ड के अधिकारियों को निर्देश दिये गए है कि वे अपने-अपने क्षेत्र में 10-10 कि.मी. तक सडक़ों पर फुटपाथ,स्पीड ब्रेकर,संकेत चिन्ह,स्ट्रीट लाईट की स्थिति की जानकारी रखेंगे तथा हर मास बैठक में इस बारे में रिपोर्ट देंगे।
उपायुक्त ने आरटीए को निर्देश दिये कि वे ऑवर लोडिड बसों,मैक्सी कैब,टाटा मैजिक जैसे अन्य वाहनों के एक माह में कम से कम 50 चालान जरूर काटे। रोड़वेज महाप्रबंधक इस बात का विशेष ध्यान रखे कि कोई भी यात्री बसों की छत पर चढक़र यात्रा ना करें,इसके लिए बस ड्राईवरों को विशेष हिदायतें दे। इसके अलावा उन्होंने स्कूल बसों में सडक़ सुरक्षा के नियमों की पालना के बारे में भी कहा।
Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.