रेप के दोषी बाबा राम रहीम की रोहतक जेल में कैसे बीती पहली रात

0
Advertisement



साध्वी से रेप मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद डेरा सच्चा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को रोहतक जेल में रखा गया है. एक तरफ जहां गुरमीत राम रहीम के समर्थक पंजाब और हरियाणा में उत्पात मचाने में लगे रहे वहीं आरोप है कि रोहतक जेल में गुरमीत राम रहीम को वीआईपी ट्रीटमेंट मिली. हालांकि इन रोहतक जेल डीजी ने आरोपों को गलत बताया है. पंचकूला की सीबीआई अदालत में राम रहीम को दोषी ठहराए जाने के बाद राम रहीम को हेलीकॉप्टर से रोहतक के सुनरिया गेस्ट हाउस में रखा गया, जिसके बाद उसे रोहतक जेल के बैरक में शिफ्ट कर दिया गया. मीडिया में आई खबरों में आरोप लगे कि गुरमीत राम रहीम को जेल में वीआईपी ट्रीटमेंट दिया गया. आइए जानें वीआईपी ट्रीटमेंट को लेकर कौन-कौन सी बातें की जा रही हैं.

1. गुरमीत राम रहीम शुक्रवार शाम करीब पांच बजे सुनारिया गेस्ट हाउस में पहुंचे. करीब 15 मिनट के बाद मेडिकल टीम ने उसके स्वास्थ्य का परीक्षण किया, जिसमें उसके डायबिटीज होने की बात कही गई. आरोप है कि राम रहीम को रोहतक जेल में सामान्य कैदियों के बजाय सुनारिया गेस्ट हाउस में बिठाया गया.

Advertisement


2. स्वास्थ्य परीक्षण के बाद गेस्ट हाउस में ही राम रहीम की डिमांड पर उसे चाय दिया गया, जो सामान्य कैदियों को नहीं दिया जाता है.

3. चाय पीने के बाद राम रहीम को रोहतक जेल के बैरक में शिफ्ट किया गया.

4. शुक्रवार रात करीब नौ बजे जेल मैनुअल के हिसाब से गुरमीत राम रहीम को रोटी, दाल, चावल और आलू की सूखी सब्जी खाने को दी गई. आरोप है कि राम रहीम ने जेल की रोटी खाने से मना कर दिया. यह भी आरोप है कि उसने डायबिटीज का हवाला देकर बाहर से खाना मंगवाने की बात कही, लेकिन जेल प्रशासन ने इसपर क्या कहा इसकी पुष्टि नहीं हो पाई है.

5. जेल सूत्रों के हवाले से कहा जा रहा है कि गुरमीत राम रहीम ने हल्का खाना खाया.

6. अरबों के ‘किले’ में रहने वाले गुरमीत राम रहीम को जेल का बैरक पसंद नहीं आया. अप्रूवल सेल में वह पूरी रात जागता रहा. भारी सुरक्षाकर्मियों के बीच भी गुरमीत राम रहीम ने बैरक की सुविधाएं बढ़ाने की मांग करता रहा. आरोप है कि राम रहीम के बैरक में दूसरे कैदियों की अपेक्षा ज्यादा सुविधाएं थीं.

7. आरोप है कि राम रहीम को पीने के लिए मिनिरल वाटर की बोतल का पानी दिया गया है.

8. राम रहीम को जेल में एक सहायक भी दिया गया है.

9. राम रहीम को उनके ही कपड़े पहने रहने की इजाजत दी गई है जबकि नियमत: जेल में कैदियों को वहां के कपड़े पहनने होते हैं.

आरोपों पर जेल डीजी की सफाई: डीजी (जेल) का कहना है कि गुरमीत राम रहीम को कोई स्पेशल ट्रीटमेंट नहीं दिया गया है. बता दें कि शुक्रवार को कोर्ट द्वारा राम रहीम को दोषी ठहराए जाने के बाद उन्हें रोहतक की जेल भेज दिया गया है. डीजी डॉक्टर केपी सिंह का कहना है कि उन्हें सामान्य व्यक्ति की तरह ही रखा गया है.





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.