कल्पना चावला हॉस्पिटल में लाईट जाने से मरीज की चौथी मंजिल से गिरने से हुई मौत

0
Advertisement

करनाल के कल्पना चावला हॉस्पिटल की लापरवाही से हुई एक मरीज की मौत, रविवार देर रात लाईट जाने से हुआ हॉस्पिटल में घुप अंधेरा जनेसरो गांव के करीब 45 वर्षीय मरीज दया राम की चौथी मंजिल से गिरने से हुई मौत ,हॉस्पिटल प्रबंधन मौत का जिम्मेवार रोजाना चली जाती है लाईट ,नहीं है लाईट जाने के बाद बेक अप का इंतजाम ! लाईट जाने पर गर्मी में तड़पते रहते है घंटो तक मरीज –

हम आपको बता दें की सी एम सिटी करनाल में 650 करोड़ रूपए की लागत से बना यह कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज एंव हॉस्पिटल शुरू से विवादों व सुर्खियों में रहा है ,3 महीने पहले अप्रैल 13 को ही प्रदेश के मुख्यमंत्री खट्टर व स्वास्थय मंत्री अनिल विज ने इस हॉस्पिटल का उद्घाटन किया था ! उद्घाटन के बाद से ही यह हॉस्पिटल विवादों से घिरा आ रहा है इन सब कारणों का जिम्मेवार यहाँ का लापरवाह व गैर जिम्मेवार प्रबंधन है ,करोड़ो रूपया हॉस्पिटल पर लगा दिया लेकिन मरीजों को यहाँ परेशानियों पे परेशानियां झेलनी पड़ती है ,दिन में कई कई बार लाईट जाने पर पुरे हॉस्पिटल यहाँ तक की एमरजेंसी वार्ड में भी घुप अँधेरा हो जाता है मरीज घंटो तड़पते रहते है

Advertisement


जिसकी तस्वीरें हमने पहले भी आपको कई बार दिखाई लेकिन रविवार देर रात यहाँ जो यह बड़ा हादसा हुआ इसके बारे में किसी ने भी सोचा नहीं था ,रविवार रात को भी लाईट गई और पुरे हॉस्पिटल में घुप अँधेरा हो गया जिसके बाद चौथी मंजिल पर भर्ती जनेसरो गाँव का एक मरीज जिसका नाम दया राम था वह लाईट जाने के बाद बाहर टहलने आया लेकिन घुप अँधेरा होने की वजह से उसे रास्ता नहीं दिखा और वह सीधा चौथी मंजिल से निचे आ गिरा और सर के बल गिरने से उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया ! जिसके बाद आनन फानन में डॉक्टर्स और सिक्योरिटी स्टाफ मोके पर पहुँचे और मृतक के शव को ऊपर एमेर्जेन्सी वार्ड में ले जाया गया जहाँ डॉक्टरों ने उसे देखते ही मृत घोषित कर दिया !

 

 

वही सुचना मिलते ही थाना सिविल लाईन पुलिस भी मोके पर पहुँची और मामले की छानबीन शुरू कर दी गई ! वही हम आपको बता दे की लाईट की समस्या और लाईट जाते ही जनरेटर न चलना यह समस्या शुरू से है जिस बारे में कई बार कल्पना चावला कॉलेज के डाईरेक्टर डॉक्टर सुरेंदर कश्यप को भी बताया जा चूका है लेकिन आज तक इस मामले में कोई कारवाही व सुनवाई नहीं हुई है !

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.