HCS की लिखित परीक्षा को नकल रहित व शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न करवाने के लिए उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक ने किया डेढ दर्जन से अधिक परीक्षा केन्द्रों का निरीक्षण

0
Advertisement



करनाल हरियाणा लोक सेवा आयोग की एचसीएस की लिखित परीक्षा जिले में नकल रहित व शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न करवाने के लिए उपायुक्त निशांत कुमार यादव और पुलिस अधीक्षक गंगाराम पुनिया ने प्रात:कालीन सत्र में आधा दर्जन से अधिक परीक्षा केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया तथा व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

उपायुक्त ने प्रत्येक परीक्षा केन्द्र में मौजूद ड्यूटी मैजिस्ट्रेट-सह-फ्लाईंग स्कवॉयड अधिकारी और केन्द्र अधीक्षक को निर्देश दिए कि सायंकालीन सत्र में प्रवेश करने वाले परीक्षार्थियों की पुन: तालाशी सुनिश्चित करें ताकि नकल पर पूर्णत: प्रतिबंध लगाया जा सके।

Advertisement


उपायुक्त ने परीक्षा केन्द्रों में गहनता से जांच करते हुए हरियाणा लोक सेवा आयोग द्वारा लगवाए गए सीसीटीवी और जैमर की सही वर्किंग की जांच की और इस बारे केन्द्र अधीक्षक से भी जानकारी ली तथा आयोग की ओर से जारी हिदायतों की दृढ़ता से पालना सुनिश्चित करें। उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक ने सीसीटीवी व जैमर का कार्य देख रहे एजेंसी के कर्मचारियों के भी पहचान पत्रों की जांच की।

उन्होंने मौके पर मौजूद पुलिस कर्मचारियों को भी मुस्तैदी से डयूटी करने के निर्देश दिए और बिना पहचान पत्र के किसी भी व्यक्ति का परीक्षा केन्द्र में प्रवेश ना हो सके। उन्होंने प्रत्येक केन्द्र अधीक्षक को परीक्षा का समय पूरा होने के उपरांत अविलम्ब ओएमआर शीट को परीक्षा के नोडल अधिकारी एवं एडीसी योगेश कुमार के पास जमा करावाने के निर्देश दिए।

उन्होंने निरीक्षण के दौरान राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय प्रेम नगर तथा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय प्रेम नगर (लडक़े), गुरूनानक खालसा कॉलेज (ब्लॉक ए) व (ब्लॉक बी), राजकीय कन्या मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय रेलवे रोड़ , एसडी वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय करनाल (ब्लॉक ए) व (ब्लॉक बी), डीएवी वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय (लडक़े), राजकीय मॉडल संस्कृति विद्यालय मॉडल टाऊन तथा डीएवी सैंटेनरी पब्लिक स्कूल स्थित परीक्षा केन्द्रों का जायजा लिया।

निरीक्षण के दौरान ड्यूटी मैजिस्ट्रेट-सह-फ्लाईंग स्कवॉयड अधिकारी एवं एसडीएम करनाल गौरव कुमार, एसडीएम घरौंडा डॉ० पूजा भारती, एसडीएम इंद्री सुमित सिहाग, एसडीएम असंध मनदीप कुमार, एमडी शुगर मिल अदिति, नगराधीश अभय कुमार जांगड़ा तथा एचसीएस मंयक भारद्वाज सहित विभिन्न परीक्षा केन्द्रों के केन्द्र अधीक्षक उपस्थित रहे।

दो सत्रों में हुई परीक्षा।
उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने बताया कि एचसीएस की लिखित परीक्षा के लिए जिले में 24 परीक्षा केन्द्र बनाए गए थे। यह परीक्षा दो सत्रों में आयोजित हुई है। प्रात:कालीन सत्र 10 बजे से 12 बजे तक तथा सायंकालीन सत्र 3 बजे से लेकर 5 बजे तक रहा।

इन परीक्षा केन्द्रों में आयोजित हुई परीक्षा।
उपायुक्त निशांत कुमार यादव ने बताया कि जिले में 24 परीक्षा केन्द्रों में पंडित चिरंजी लाल राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सैक्टर 14 करनाल, दयाल सिंह पब्लिक स्कूल सैक्टर 7 (ब्लॉक ए), दयाल सिंह पब्लिक स्कूल सैक्टर 7 (ब्लॉक बी), वीयूएमएन जैन पब्लिक स्कूल, राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय प्रेम नगर , राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय प्रेम नगर (लडक़े), गुरूनानक खालसा कॉलेज (ब्लॉक ए) व (ब्लॉक बी), राजकीय कन्या महाविद्यालय रेलवे रोड , एसडी वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय करनाल (ब्लॉक ए) व (ब्लॉक बी), डीएवी वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय (लडक़े), राजकीय मॉडल संस्कृति विद्यालय मॉडल टाऊन तथा डीएवी सैंटेनरी पब्लिक स्कूल, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय (लडक़े), डीएवी पीजी कॉलेज करनाल (ब्लॉक ए), डीएवी पीजी कॉलेज करनाल (ब्लॉक बी), राजकीय कन्या मॉडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय रेलवे रोड़ , दयाल सिंह कॉलेज करनाल, जैन गल्र्ज वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, आदर्श पब्लिक स्कूल (ब्लॉक ए) व (ब्लॉक बी), गुरू तेग बहादुर पब्लिक स्कूल मॉडल टाऊन तथा श्रीकृष्ण प्रणामी पब्लिक स्कूल के परीक्षा केन्द्र शामिल रहे।

बॉक्स:-सायंकालीन सत्र के इन परीक्षा केन्द्रों का उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक ने किया निरीक्षण।
एचसीएस की लिखित परीक्षा के सायंकालीन सत्र में भी उपायुक्त निशांत कुमार यादव और पुलिस अधीक्षक गंगाराम पुनिया ने पांच शिक्षण संस्थानों में स्थापित 7 परीक्षा केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया, जिनमें आदर्श पब्लिक स्कूल (ब्लॉक ए) व (ब्लॉक बी), श्रीकृष्ण प्रणामी पब्लिक स्कूल , दयाल सिंह पब्लिक स्कूल सैक्टर 7 (ब्लॉक ए), दयाल सिंह पब्लिक स्कूल सैक्टर 7 (ब्लॉक बी), राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय प्रेम नगर (लडक़े), दयाल सिंह कॉलेज करनाल शामिल रहे।

इन सभी परीक्षा केन्द्रों पर उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक ने जैमर, सीसीटीवी, सुरक्षा, मूलभूत सुविधाओं तथा डयूटी पर तैनात कर्मचारियों के पहचान पत्र से संबंधित सभी पहलूओं को ध्यान में रखते हुए जायजा लिया।





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.