हत्या के प्रयास के मामले में फरार आरोपी रिंकू एक अवैध पिस्तौल, दो जिंदा रौंद व गाडी सहित करनाल पुलिस ने किया गिरफतार

0
Advertisement



  • हत्या के प्रयास के मामले में फरार आरोपी रिंकू एक अवैध पिस्तौल, दो जिंदा रौंद व गाडी सहित करनाल पुलिस ने किया गिरफतार
  • आरोपी बुढनपुर गांव के सरंपच योगेश शर्मा को धमकी देने के मामले में भी था फरार
  • आरोपी रिंकू पर करीब 15 मामले अलग-2 जिलों में लडाई-झगडे, लूट, डकैती, जान से मारने की धमकी देने व अवैध हथियार रखने व उन्हे प्रयोग करने के हैं दर्ज

दिनांक 03.03.2021 को गांव बुडनपुर खालसा के पास गाडी में सवार दो आरोपियों रिंकू पुत्र पुन्नाराम वासी गांव बुढनपुर खालसा थाना इंद्री व आरोपी सचिन पुत्र शशि कुमार वासी गांव मुरादगढ़ थाना इंद्री हाल किरायेदार जिला यमुनानगर व अन्य दो-तीन युवकों द्वारा रूचिन पुत्र रमेश व कृष्ण पुत्र मदन वासीयान गांव बढेडी थाना इंद्री के साथ मारपीट की व उनको जान से मारने की नियत से गोली चलाई। इस संबंध में रूचिन के ब्यान पर उपरोक्त दोनों नामजद आरोपियों के खिलाफ दिनांक 04.03.2021 को थाना इंद्री में धारा 323,324,427,34,307 भा.द.स. व 25/54/59 शस्त्र अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया।

मामले की आगामी तफ्तीश सीआईए-02 करनाल की टीम को सौंपी गई। दौराने तफतीश दिनांक 08.03.2021 को उप निरीक्षक शिवकुमार सीआईए-02 की अध्यक्षता में टीम द्वारा *आरोपी रिंकू पुत्र पुन्ना राम वासी बुढनपुर खालसा उपरोक्त* को इंद्री के एरिया से गिरफतार किया गया। *आरोपी के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल की गई एक अवैध देशी पिस्तौल 12 बोर, दो जिंदा रौंद व एक गाडी फोर्ड फिस्टा बरामद की गई।* पूछताछ में आरोपी द्वारा खुलासा किया गया कि उसके दोस्त सचिन का रूचिन के साथ रूप्यों के लेन देन को लेकर विवाद था। जिसकी वजह से रूचिन को जान से मारने की नियत से उस पर फायरिंग की गई लेकिन वह बच गया।

Advertisement


जांच में यह खुलासा हुआ कि आरोपी द्वारा गांव बुढनपुर के सरपंच को लडाई-झगडे के एक मामले में आरोपी के खिलाफ गवाही देने पर जान से मारने की धमकी दे रखी थी। *जांच में यह भी खुलासा हुआ कि आरोपी के खिलाफ लडाई-झगडे, लूट, डकैती, जान से मारने की धमकी देने व अवैध हथियार रखने व उन्हे प्रयोग करने के करीब 15 मामले अलग-2 जिलों करनाल, कुरूक्षेत्र, यमुनानगर व अंबाला में दर्ज रजिस्टर हैं।* आरोपी को कल पेश अदालत किया जाकर रिमाण्ड हासिल किया जायेगा। दौराने रिमाण्ड आरोपी से गहनता से पूछताछ की जायेगी। व फरार दूसरे आरोपी को गिरफ्तार किया जायेगा।





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.