19 अगस्त को नई अनाज मंडी पीपली में हरियाणा सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी करेगी सम्मेलन

0
Advertisement


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

हरियाणा सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी की मीटिंग गुरुद्वारा माडल टाउन में प्रधान जगदीश झिंडा की अध्यक्षता में हुई। मीटिंग के बाद झिंडा नेे पत्रकारों से बातचीत में कहा कि मीटिंग में सर्वसम्मति से फैसला लिया गया कि 19 अगस्त को नई अनाज मंडी पीपली में हरियाणा सिख गुरुद्वारा मैनेजमेंट कमेटी सम्मेलन करेगी।

जिसका उद्देश्य हरियाणा की संगत को सचेत व जागरूक किया जाना है। हरियाणा कमेटी का केस सुप्रीम कोर्ट में चल रह है, जिसमें हरियाणा कमेटी और शिरोमणि कमेटी के लाखों रुपए केस में बर्बाद हो रहे हैं। संगत द्वारा 10-10 रुपए बड़ी शरदा द्वारा दिया हुआ दान वकीलों के पास जा रहा है। संगत का जो चढ़ावा धार्मिक प्रचार, सामाजिक व शिक्षा तथा लंगर और स्वास्थ्य के लिए खर्च होना चाहिए वह सारा धन कोर्ट में मुकदमे पर खर्च हो रहा है।

Advertisement


इस सम्मेलन द्वारा अकाली दल बादल व शिरोमणि कमेटी पर दबाव बनाया जाएगा जो सुप्रीम कोर्ट में केस शिरोमणि कमेटी ने डाल रखा है उसको वापस लिया जाए ताकि संगत द्वारा दिया हुआ दान संगत पर ही खर्च हो सके। बादल अकाली दल चुनाव लडऩे की हरियाणा में चुनाव लडऩे की बात कर रहा है। बादल किसी बड़ी पार्टी की शह पर हरियाणा के सिखों को दो फाड़ करना चाहता है।

बादल जहां गोलक चोर है वहीं हरियाणा के पानी का भी चोर है तथा नशों का व्यापारी है। यदि बादल हरियाणा में चुनाव लड़ता है तो यहां हरियाणा के नौजवानों को ये नशेड़ी बना देगा। बादल का पंजाब अपना प्रांत है इसने वहां के नौजवानों पर तरस नहीं किया तो हरियाणा के नौजवान इसके क्या लगते हैं। बादल तो हमेशा हरियाणा के कोई हक देना ही नहीं चाहता चाहे व हरियाणा का पानी हो, गुरुद्वारा कमेटी हो या चंडीगढ़ व हाईकोर्ट हो वो हरियाणा के साथ धोखा कर रहा है। बादल दो मुंहा सांप है।

हरियाणा के गुरुद्वारों के पैसों को अमृतसर में ले जा रहा है। पानी इसलिए नहीं देता है कि नदियां पंजाब से होकर गुजरता है। ये बादल का छोटे भाई के प्रति एक तानाशाही रवैया है। अकाली और बादल हरियाणा में आकर शांतिपूर्वक माहौल को खराब करना चाहता है। जो हरियाणा के सिख बादल की बोली बोल रहे हैं वह लालची व बादल के गुलाम हैं। वह हरियाणा से गद्दारी कर रहे हैं। हरियाणा कमेटी द्वारा निकाला हुआ कूड़ा करकट बादल अपने घर ले गया है। पता नहीं बादल को इस गंद से बदबू क्यों नहीं आती और उन्हीं के दम पर आज बादल हरियाणा में आकर हरियाणा निवासियों को गुमराह कर रहा है।

बादल की इस असलियत और उसकी बदनीति को उजागर करने के लिए 19 अगस्त को नई अनाज मंडी में एक सम्मेलन करके हरियाणा निवासियों को जगाया जाएगा। बैठक में युवा अध्यक्ष हरप्रीत सिंह नरूला, हरभजन सिंह सराह, जगजीत सिंह, सुखवंत सिंह चीमा, गुणीत सिंह, जसबीर सिंह, रणजीत सिंह डाचर, वरिंद्र सिंह, गुरबाज सिंह, लखबीर सिंह व राजिंद्र आर्य दादूपुर प्रदेश अध्यक्ष राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ मौजूद रहे।


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Advertisement









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.