Advertisement


जैसा की आप सभी को विदित है कि दिनांक 25.08.17 को बाद दोपहर करीब 03:00 बजे माननीय अदालत द्वारा साध्वी यौन शोषण मामले में डेरा प्रमुख राम रहीम को दोषी करार दे दिया गया था, जहां से उन्हें न्यायीक हिरासत में जेल भेज दिया गया था। उन्हें दोषी करार दिए जाने के बाद से ही उनके अन्नुयायीयों ने हरियाणा और पंजाब के कई जिलों में तोड़ फोड़ व आगजनी शुरू कर दी थी। इसके संबंध में पहले से ही पूरे हरियाणा में हाई अलर्ट था।

वहीं थाना घरौंडा टीम ने उसी रात थाना क्षेत्र में गस्त के दौरान प्राप्त हुई सुचना के आधार पर सरकारी हस्पताल घरौंडा के पास से पांच व्यक्तियों को धर दबोचा। पुलिस टीम द्वारा गिरफतार किए गए पांचों आरोपीयों के पास से चार बोतल कांच की जिनमें पैट्ोल और लोहे की छोटी-छोटी गोलियां भरी हुई थी, छः लाईटर, सुतली, कपड़ा व लोहे की गोलियां बरामद की गई थी। जिसपर करनाल पुलिस की टीम ने आरोपीयों के खिलाफ धारा 148,149,188,124-ए,307,436,511 भा.द.स. व 3, 4 विस्फोटक एक्ट के तहत मामला दर्जकर लिया और उनसे पुछताछ के लिए अदालत के सामने पेषकर एक दिन का रिमांड हासिल किया। जो पुलिस रिमांड में आरोपीयों से की गई पूछताछ के दौरान सामने आया कि उन्होंनें कोर्ट द्वारा डेरा प्रमुख को दोषी करार दिए जाने के बाद डेरा के सभी अन्नुयायीयों को एकत्रित करके आधी रात के समय घरौंडा कस्बे की सरकारी ईमारतों व वाहनों आदि में आग लगाकर इस फैंसले का विरोध करना था। उन्होंने बताया कि इस षडयंत्र में उनका मुख्य साथी ….. अषोक पुत्र सावन राम वासी गली नं0-6 विकास नगर करनाल भी उनके साथ शामिल था।
तभी से प्रबंधक थाना घरौंडा निरीक्षक हरजिन्द्र सिंह ने अपनी टीम के साथ आरोपी अषोक की सरगर्मी से तलाष शुरू कर दी। गिरफतारी से बचने के लिए आरोपी ईधर-उधर दौड़ता रहा, लेकिन पुलिस द्वारा उसके छिपने वाले हर स्थान पर दबिष दी गई और उसके भागने के सारे रास्ते बंद कर दिए। जिससे मजबुर होकर आरोपी अषोक ने दिनांक 02.09.17 को माननीय अदालत के सम्मुख समर्पण कर दिया। जो माननीय अदालत द्वारा उसे न्यायीक हिरासत में भेज दिया गया था। जहां से आज दिनांक 04.09.17 को स्थानीय पुलिस द्वारा उसे एक दिन के रिमांड पर ले लिया गया। पुलिस टीम द्वारा आरोपी से उपरोक्त संबंध में पुछताछ की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.