करनाल में 15 डेरा समर्थक व उपद्रवी गिरफ्तार ,पेट्रोल बम्ब ,आईरन बॉल्स व लाठी डंडे बरामद

0
Advertisement



डेरा सच्चा सौदा सिरसा के बाबा राम रहीम से जुड़े मामले में हरियाणा की सी एम सिटी करनाल की पुलिस ने कार्यवाही करते हुए अलग अलग स्थानों से 15 डेरा समर्थकों व उपद्रवियों को विस्फोटक पदार्थों के साथ गिरफ्तार किया है ! इन लोगों के पास से पुलिस ने पेट्रोल बम , लाठी , डंडे , राड व् मिर्ची स्प्रे सहित अन्य आपत्तिजनक सामान बरामद किया है ! पुलिस ने इन सभी के खिलाफ विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर आगामी कार्यवाही शुरू कर दी है
करनाल पुलिस अधीक्षक जशनदीप सिंह रंधावा ने प्रेससवार्ता कर जानकारी देते हुए बताया की करनाल के सभी डेरों में सर्च अभियान चलाया जा रहा है और इनमे लोगों के इकठ्ठे होने पर बैन लगाया गया है ! उन्होंने कहा की इंद्री क्षेत्र से छह डेरा समर्थकों को विस्फोटक सामग्री के साथ पकड़ा गया है , ये लोग सरकारी  इमारतों में आग लगाने की फ़िराक में थे ! इसके अलावा घरोंडा में भी कुछ लोग आगजनी करने के प्रयास में थे ! मधुबन में 4 लोगों को उस समय गिरफ्तार किया गया जब वे नाका तोड़कर रोहतक जाने की कोशिश कर रहे थे ! इनके कब्जे से 20 लीटर तेल , डंडे , रोड  और डेरा की एक बोलेरो गाड़ी बरामद की है ! 
उन्होने कहा कि जिला प्रषासन कानून व्यवस्था बनाए रखने तथा लोगों की सुरक्षा के लिए सजग है। आज दिनभर पुलिस फोर्स शहर व जिला के कस्बों में गश्त कर रही है ! प्रशासनिक अधिकारी भी हालात का जायजा लेने के उद्देष्य से दौरा कर रहे हैं ! इस दौरान सभी जगह शांति रही। उपायुक्त ने जनता से अपील में कहा है कि वे अफवाहें ना फैलाएं तथा किसी भी तरह की अफवाहों पर ध्यान ना दें ! सुरक्षा की दृश्टि से प्रशासनिक बंदोबस्त बने रहेंगे।
लोगों को किसी भी तरह से भयभीत होने की जरूरत नहीं है ! दूसरी ओर उन्होने लोगों को आगाह करते हुए कहा है कि व्यवस्था के बावजूद यदि कोई व्यक्ति उपद्रव करने की कोशिश करेगा, तो उसके साथ सख्ती से निपटा जाएगा, क्योंकि किसी को भी कानून व्यवस्था व शांति भंग करने की इजाजत नहीं है। जिला में एहतियात के तौर पर पहले से ही धारा 144 लागू है, जो कि आगामी आदेशों तक बनी रहेगी। इसके तहत कोई भी व्यक्ति अपने साथ घातक हथियार लेकर नहीं चल सकता !




LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.