कल करनाल के सभी स्कूलों की रहेगी छुट्टी ,अटल जी का निधन, हरियाणा के सीएम और मंत्रियों ने जताया दुःख, हरियाणा में 7 दिन का राष्ट्र शोक घोषित

0
Advertisement


शेयर करें।
  • 4.1K
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    4.1K
    Shares

केंद्र सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बाद पूरे देश में 7 दिन का शोक घोषित किया। अटल बिहारी वाजपेयी के निधन के बाद बिहार सरकार ने राज्य में 7 दिन का शोक और कल की छुट्टी घोषित की।वाजपेयी के सम्मान में कल पंजाब के सभी ऑफिस/बोर्ड/कोर्पोरेशन और शैक्षणिक संस्थान बंद रहेंगे।

हरियाणा के शिक्षा मंत्री श्री राम बिलास शर्मा ने पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है और कहा कि उनके निधन से देश की राजनीति का एक मजबूत स्तंभ ढ़ह गया। उनके निधन से एक समर्पित, कर्मठ और निष्ठावान व्यक्तित्व हमारे बीच से चला गया।

Advertisement


पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी भारत माता के एक ऐसे सपूत थे, जिन्होंने स्वतंत्रता से पूर्व और पश्चात भी अपना जीवन देश और देशवासियों के उत्थान एवं कल्याण हेतु जीया और जिनके कार्यों से देश का मस्तक ऊंचा हुआ। राजनीति में दिग्गज राजनेता, विदेश नीति में संसार भर में समादृत कूटनीतिज्ञ, लोकप्रिय जननायक और कुशल प्रशासक होने के साथ-साथ वे एक अत्यंत सक्षम और संवेदनशील कवि, लेखक और पत्रकार भी रहे हैं।

अपने शोक संदेश में श्री शर्मा ने कहा कि भारत वर्ष की उन्नति में वाजपेयी जी का योगदान कभी नहीं भुलाया जा सकेगा। वे कई दशकों तक भारतीय राजनैतिक पटल पर छाये रहे। उनके निधन से देश की राजनीति में एवं सार्वजनिक जीवन में आयी रिक्तता को भर पाना असंभव होगा। वाजपेयी जी जैसे ईमानदार एवं स्वच्छ छवि के व्यक्ति विरले ही होते हैं। मेरे लिए भी यह अपूरणीय क्षति है। उनकी स्मृति हमेशा मुझे प्रेरणा देती रहेगी।

उन्होंने परमात्मा से प्रार्थना की कि उनकी आत्मा को शांति एवं परिजनों को इस अपूरणीय क्षति को सहने की शक्ति प्रदान करे। हरियाणा के जनस्वास्थ्य आभियांत्रिकी मंत्री डॉ. बनवारी लाल ने देश के पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी के दुखद निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। श्री वाजपेयी ने आज नई दिल्ली के ऐम्स अस्पताल में आखिरी सांस ली। आज यहां जारी एक शोक संदेश में डॉ. बनवारी लाल ने कहा कि श्री वाजपेयी के निधन से देश और राजनीति को एक अपूर्णीय क्षति हुई है।

उन्होंने कहा कि श्री वाजपेयी एक महान कवि, जुझारू पत्रकार और बेहतरीन वक्ता थे तथा वे एक सच्चे राष्ट्रवादी और दुरदर्शी व्यक्ति थे। उन्होंने कहा कि श्री वाजपेयी जी की शख्सियत ऐसी थी कि देश की जनता ने उन्हें दलगत राजनीति से ऊपर उठकर सम्मान दिया। उन्होंने कहा कि दुनिया में देश को ताकतवर पहचान दिलाने के लिए श्री वाजपेयी ने अपने कार्यकाल के दौरान पोखरण में परमाणु प्रशिक्षण करके भारत को परमाणु शक्ति बनाने का मार्ग प्रशस्त किया।

उन्होंने कहा कि श्री वाजपेयी सदैव गरीबों और जरूरतमंदों के साथ खड़े रहते थे। डॉ. बनवारी लाल ने कहा कि आज देश ने एक बहुमुखी प्रतिभाशाली व्यक्तित्व को खो दिया है। -हरियाणा की शहरी स्थानीय निकाय मंत्री श्रीमती कविता जैन ने अटल बिहारी वाजपेयी की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त करते हुए कहा कि है कि श्री वाजपेयी जी की मृत्यु से देश ने एक महान शख्सियत खोई है जिसकी भरपाई नहीं की जा सकती। उन्होने कहा कि भारतीय राजनीति के इतिहास में श्री वाजपेयी ने अपनी अमिट छाप छोड़ी है।

स्वर्गीय वाजपेयी आजाद भारत की राजनीति का वो चमकता सितारा रहे जिन्होनें राजनीति के हर दौर को रोशन किया। श्रीमती जैन ने स्वर्गीय वाजपेयी जी को श्रद्घांजलि अर्पित करते हुए कहा कि ऐसे महान व्यक्तित्व का जीवन हम सब के लिए प्रेरणास्रोत रहेगा। हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने पूर्व प्रधान मंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी के दुखद निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उनके निधन को देश, राजनीति और भाजपा के लिए एक अपूर्णीय क्षति बताया।

श्री वाजपेयी ने आज सायं नई दिल्ली के एम्स में अपनी आखिरी सांस ली, जहां उन्हें नौ सप्ताह पहले भर्ती कराया गया था और लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गया था। यहां जारी अपने शोक संदेश में मुख्यमंत्री ने श्री वाजपेयी को एक महान कवि, जुझारू पत्रकार और वक्ता बताते हुए कहा कि वे एक सच्चे राष्टï्रवादी और दुरदर्शी राजनेता थे, जिन्होंने अपने विलक्षण गुणों से देश के राजनीतिक परिदृश्य को बदल दिया था ।

उन्होंने कहा कि लोगों ने दलगत राजनीति से ऊपर उठकर उनका सम्मान किया। उन्होंने कहा कि तीन बार भारत के प्रधानमंत्री रहे श्री अटल बिहारी वाजयेपी में नेतृत्व क्षमता और संगठनात्मक कौशल कूट-कूट कर भरा था। प्रधानमंत्री के रूप में देश और देश की अर्थ-व्यवस्था में उनका योगदान देश के इतिहास में सुनहरे अक्षरों में अंकित रहेगा। देश को और अधिक ऊंचाइयों तक ले जाने की उनकी प्रतिबद्धता और असीमित उत्साह ने उन्हें आर्थिक सुधार करने और पोखरण में परमाणु प्रशिक्षण करके भारत को परमाणु शक्ति सम्पन्न राष्टï्र बनाने का मार्ग प्रशस्त किया।

श्री वाजपेयी साहित्य, राजनीति और सार्वजनिक सेवा की दुनिया में एक सम्मानित व्यक्ति थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि उनकी मृत्यु से देश ने एक बहुमुखी प्रतिभा को खो दिया है जो हमेशा गरीबों और जरूरतमंदों के साथ खड़े थे।


शेयर करें।
  • 4.1K
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    4.1K
    Shares
Advertisement













LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.