मुकीम काला गैंग के बदमाशों ने घरौंडा व्यापारी के पेट मे गोली मार लूटपाट की वारदात को दिया था अंजाम करनाल पुलिस ने किए गिरफ्तार

0
Advertisement



मुकीम काला गैंग के बदमाशों ने घरौंडा व्यापारी के पेट मे गोली मार लूटपाट की वारदात को दिया था अंजाम , गर्लफ्रेंड को खुश करने के लिए करते थे वारदात , करनाल पुलिस ने किए गिरफ्तार ,देखें Live – Share Video

मुकीम काला गैंगस्टर के मुख्य साथी दिलनवाज़ व तीन बदमाशों को पुलिस ने घरौंडा के पास से किया गिरफ्तार , घरौंडा में व्यापारी से लूट के प्रयास के बाद गोली मारने का मामला , ओम ज्वैलर्स पर गोलियां चलाने के मामले समेत कई लूट, चोरी, स्नैचिंग की वारदातों को दे चुके थे अंजाम ! दिलनवाज़ की गर्लफ्रेंड भी थी उसके साथ कई और वारदातों में शामिल , 32 बोर की पिस्तौल बरमाद , देखें – Live – Share Video

Advertisement


करनाल पुलिस की सीआईए 1 शाखा ने गैंगस्टर मुकीम काला गैंग के 4 सदस्यों को गिरफ्तार किया । इन बदमाशों पर लूट, चोरी, हत्या का प्रयास, अवैध हथियार रखने जैसी गंभीर वारदातों में मामले दर्ज हैं। ये बदमाश हरियाणा, यूपी, राजस्थान में वारदातों को अंजाम देते थे।

कभी ज्वैलर्स की दुकान पर गोलियां बरसाते थे, कभी वयापारी को निशाना बनाते थे, कभी फर्जी इनकम टैक्स ऑफिसर बन जाते थे और बनाते थे अपनी धाक, मचाते थे कोहराम, डराते थे लोगों ताकि लोग दहशत में रहें और ये दे सकें लूट की वारदातों मो अंजाम। करनाल के घरौंडा में ज्वैलर्स की दुकान पर लूट का प्रयास और गोलियां चलाना, घरौंडा में वयापारी से लूट का प्रयास और उसके ऊपर गोलियां बरसाना, चौरा गांव में किसी दुकान पर जाकर फर्जी इनकम टैक्स ऑफिसर बनकर रेड करने के अलावा, यूपी और राजस्थान में दुकानों में लूट करने की वारदातें शामिल हैं। मुख्य आरोपी दिलनवाज़ को गिरफ्तार कर लिया गया है। जिसके सम्बन्ध मुकीम काला के साथ थे, दिलनवाज़ कई बार जेल गया जहां उसकी दोस्ती मुकीम के साथ हुई थी और जेल से बाहर आने के बाद दिलनवाज़ उसी के इशारों पर काम करता था। दिलनवाज़ की एक प्रेमिका भी है जिसको खुश रखने के लिए उस पर पैसे खर्च के लिए ये वारदातों को अपने साथियों के साथ मिलकर अंजाम देता था। कई वारदातों में वो प्रेमिका भी इनके साथ शामिल रही और अब लॉक डाउन लगने से पहले वो नेपाल भाग गई। पुलिस ने इन आरोपियों को घरौंडा के बस स्टैंड के पास से गिरफ्तार किया जहां पर ये एक और वारदात को अंजाम देने की रणनीति बना रहे थे।

दीपेंद्र राणा , इंचार्ज, सीआईए – 1 ने प्रेसवार्ता कर दी जानकारी , फिलहाल 4 आरोपियों के पास से पुलिस ने एक 32 बोर की पिस्तौल बरमाद की है। वहीं वारदातों में इस्तेमाल गाड़ी, बाइक और बाकी सामान बरमाद करना बाकी है। इन बदमाशों ने करनाल में पुलिस और पब्लिक की नाक में दम किया हुआ था जिससे अब थोड़ी राहत ज़रुर मिलेगी, अब पुलिस इनका रिमांड लेगी और बचे हुए आरोपी तक पहुंचने की कोशिश करेगी।





LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.