करनाल पुलिस के 150 कर्मचारी और अधिकारियो ने लिया ट्रामा केयर एंड फर्स्ट एड का प्रशिक्षण

0
Advertisement

करनाल स्थित नई पुलिसलाइन में जिला पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र भौरिया के निर्देश अनुसार संजीव बंसल सिग्नस हस्पताल ने ट्रामा केयर एंव फर्स्ट एड प्रशिक्षण कैम्पेन के तहत करनाल पुलिस के करीब 150 कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया। इस कैम्पेन का उद्देश्य सिपाही से लेकर निरीक्षक पद पर कार्यरत अधिकारियों को किसी भी दुर्घटना में किसी गंभीर रूप से घायल व्यक्ति को कैसे उपचार दिया जा सकता है उसकी विस्तृत जानकरी देना था ।

कार्यक्रम की शुरुआत से पहले करनाल पुलिस के डीएसपी राजीव कुमार ने पुलिस लाइन पहुंचकर सभी मौजूद पुलिस कर्मचारियों को सम्बोधित किया तथा ट्रामा केयर एंव फर्स्ट एड ट्रेनिंग की महत्वता के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि जब भी कोई दुर्घटना होती है तो सबसे पहले पुलिस ही मौके पर पहुंचती है जिसे घायल व्यक्ति से मिलने व् उसे हस्पताल पहुंचाने का मौक़ा मिलता है। उन्होंने कहा कि यदि पुलिस कर्मचारी इस तरह की ट्रेनिंग लेते है तो सम्भवत ही किसी घायल की जान को बचाने में मदद मिल सकती है जिससे सम्भवत बड़ा लाभ होगा।

Advertisement


इसके बाद संजीव बंसल सिग्नस हस्पताल के मेडिकल निदेशक डॉ परवेज सोफी ने सभी मौजूद पुलिस कर्मचारियों व् अधिकारियो को बताया कि जब भी कोई बड़ी दुर्घटना होती है तो हमें सबसे पहले घायल व्यक्ति को किस किस तरह की चोट आई है इसकी जानकारी लेनी चाहिए। उन्होंने बताया कि कई बार घायल व्यक्ति जिसे कुछ ऐसी चोटे लगती है जिनका आसानी से उपचार होता है को एम्बुलेंस या वाहन में डालते वक़्त ऐसी अनदेखी हो जाती है जोकि उसके पूरे जीवन पर भारी पद जाती है।

इसलिए हमें  सबसे पहले जानकारी जुटाए कि जिस घायल को हम लिफ्ट कर रहे है उसके खून को बहने से रोका जा सके। उसे यदि कोई फ्रेक्चर है तो उस अंग को कम से कम हाथ लगते हुए लिफ्ट के दौरान उस पर अधिक भार न आये इसका भी ध्यान रखना चाहिए। डॉ परवेज से इसके साथ साथ एक नाटक के आधार पर कैसे किसी घायल को एम्बुलेंस में लिफ्ट किया जाए ये भी पूरी जानकारी दी जिसके बाद सभी कर्मचारियों ने मेडिकल निदेशक डॉ परवेज सोफी से कुछ सवाल भी किये जिनका डॉ सोफी ने पूर्ण जानकरी के साथ जवाब दिया।

अंत में संजीव बंसल सिग्नस हस्पताल करनाल के इकाई प्रमुख डॉ वेज सोफी ने भी मौजूद सभी पुलिस कर्मियो को एम्बुलेंस में हर समय मौजूद रहने वाले उपकरणों के बारे में बताया तथा फर्स्ट एड किट की महत्वता के बारे में जानकरी देते हुए हर समय पीसीआर और एम्बुलेंस में फर्स्ट एड होने की मौजूदगी के बारे में जानकरी दी। कार्यक्रम के अंत में डीएसपी राजीव कुमार ने सभी पुलिस कर्मचारियों को अपनी ड्यूटी पूरी निष्ठा से करने का आह्वान किया तथा संजीव बंसल सिग्नस हस्पताल के मीडेक्ल निदेशक डॉ परवेज सोफी व् इकाई प्रमुख डॉ रुपेश सक्सेना को कार्यक्रम के आयोजन के लिए धन्यवाद दिया। इस मौके पर वेलफेयर इंस्पेक्टर सुरेंद्र सिंह सहित करनाल के सभी थानों, ट्रेफिक पुलिस व् हाईवे पुलिस करनाल के सभी संबंधित पुलिस कर्मचारी व् अधिकारी मौजूद रहे।

पुलिस कर्मचारियों ने स्वास्थ्य की जांच भी करवाई और बरती जाने वाली सावधानियों की जानकारी भी ली :  आज करनाल पुलिस लाइन्स में ट्रामा ट्रेनिंग के साथ साथ करनाल पुलिस के करीब 150 पुलिस कर्मचारियों ने अपने स्वास्थ्य की जांच भी करवाई। इस जांच कैंप में पुलिस कर्मचारियो व् अधिकारियो ने अपने बीपी, शुगर, ईसीजी, आँखों की जांच करवाई व् दिल से जुड़े रोज के बारे में भी पूछा।  इस मौके पर संजीव् बंसल सिग्नस हस्पताल के मेडिकल निदेशक डॉ परवेज सोफी, इकाई प्रमुख डॉ रुपेश सक्सेना, राकेश कौशिक, मदन लाल, समीर, हामिद, सिस्टर नीलम सहित बड़ी संख्या में हस्पताल का स्टाफ मौजूद रहा जिन्होंने सभी पुलिस कर्मचारियों व् अधिकारियो के स्वास्थ्य की जांच की व् उन्हें आगामी सावधानियों के बारे में विस्तार से बताया।

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.