अधिकारी और कर्मचारी ऑनलाईन व्यवस्था का करें उपयोग:-उपायुक्त आदित्य दहिया

0
Advertisement

सरकारी कार्यालयों में सुव्यवस्था हो, लोगों को सरकारी सेवाओं का लाभ अविलंब मिले तथा आमजन को सुशासन की तस्वीर स्पष्ट दिखाई दे, इस प्रकार की बेहतरीन व्यवस्था के दृष्टिगत उपायुक्त डा० आदित्य दहिया ने मंगलवार को नीलोखेड़ी के तहसील कार्यालय, बीडीपीओ कार्यालय तथा मार्किट कमेटी का औचक निरीक्षण किया।
निरीक्षण के दौरान डीसी ने अधिकारियों और कर्मचारियों को निर्देश दिए कि वे कार्यालयों में रिकॉर्ड सुव्यवस्थित करें, कार्यालय का कार्य समय पर निपटाएं तथा साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। सरकारी सेवाओं का लाभ लेने के लिए आए लोगों के साथ विनम्रतापूर्वक व्यवहार करें। सबसे पहले उपायुक्त तहसील कार्यालय पहुंचे, जहां उन्होंने कम्प्यूटर ऑपरेटरों को निर्देश दिए कि तहसील कार्यालय में प्रयोग हो रहे कम्प्यूटर और प्रिंटर सहित अन्य उपकरण सही हालत में हो,किसी भी उपकरण के खराब होने पर इसकी सूचना तुरंत सम्बन्धित अधिकारी को दें और समय पर ठीक करवाना सुनिश्चित करें ताकि जन सेवा और विकास के कार्यों में कोई बाधा उत्पन्न ना हो।

Advertisement


उपायुक्त ने तहसील कार्यालय के कानूनगो, टीआरए तथा रिकॉर्ड रूम का भी निरीक्षण किया और तहसील कार्यालय में स्थित पटवारखाना में पटवारियों से भी मिले। इसके उपरांत उपायुक्त बीडीपीओ कार्यालय में पहुंचे और प्रत्येक  कमरे में जाकर वहां बैठे अधिकारियों और कर्मचारियों से उनके पद और कार्य प्रणाली की विस्तृत जानकारी ली तथा कहा कि हम सबका मुख्य ध्येय सरकार की जनहित की नीतियों को आमजन तक पहुंचाना है और सेवा के इस कार्य को मेहनत और लगन के साथ करने की जरूरत है।

उन्होंने खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी को निर्देश दिए कि वे खंड में चल रहे विकास कार्यों का समय-समय पर निरीक्षण करें और निर्माण सामग्री की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दें ताकि जनता के लिए करवाए जा रहे विकास कार्यों को लम्बे समय तक सुनिश्चित किया जा सके। इस मौके पर उन्होंने एबीपीओ को निर्देश दिए कि वे मनरेगा के तहत काम करने वाले सभी लोगों के खातों को आधार के साथ लिंक करवाना सुनिश्चित करें और इस कार्य के लिए अग्रणी बैंक प्रबंधक से समन्वय स्थापित करें। डीसी ने पंचायती राज के एसडीओ को भी निर्देेश दिए कि जिन गांवों में थ्री या फाईव पोंड सिस्टम का निर्माण करवाया जा रहा है उनका लेवल अवश्य जांच लें ताकि पानी की निकासी की उचित व्यवस्था हो और नए सिस्टम के निर्माण का उद्धेश्य सार्थक हो सके।

बीडीपीओ कार्यालय में विभिन्न गांवों के पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधि भी उपायुक्त से  मिले और अपनी समस्याएं बताई। डीसी ने अधिककारियों को निर्देश दिए कि हर ग्राम पंचायत की समस्या को प्राथमिकता के आधार पर हल किया जाए। उन्होने पीआरआई सदस्यों से भी कहा कि गांव में विकास कार्यों को आपसी तालमेल के साथ पूरा करवाएं ,विकास कार्यों मे किसी भी प्रकार की पार्टी बाजी आड़े नही आनी चाहिए। सबका साथ-सबका विकास वर्तमान सरकार का मुख्य एजेंडा है इसलिए सभी प्रदेश के विकास के लिए एकजुट होकर कार्य करें, अपने-अपने गांव का विकास ही प्रदेश के विकास को प्रदर्शित और परिभाषित करता है। इस मौके पर एसडीएम योगेश कुमार, बीडीपीओ सुनेहरा सिंह, तहसीलदार दर्पण  काम्बोज सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.