करनाल एक बड़े निजी हॉस्पिटल ने सभी एम्बुलेंस चालकों व हॉस्पिटल कर्मचारियों के लिए रखी एक स्पेशल पार्टी

2
Advertisement



कमीशन डॉक्टर मरीज ओर पार्टी ! यह पढ़कर आप समझ तो गए होंगे कि ऊपर लिखे इन 4 शब्दों का क्या मतलब है अगर नहीं समझे तो नीचे लिखी पूरी खबर को जरूर पढ़ें और शेयर भी करें !

करनाल रेलवे रोड़ पर स्तिथ एक बड़े निजी हॉस्पिटल की तरफ से रेलवे रोड़ पर ही स्तिथ एक होटल में आज की जा रही है एक ऐसी पार्टी जिसमें करनाल के तकरीबन सरकारी व निजी एम्बुलेंस चालकों ,PRO ,एजेंटों व कल्पना चावला हॉस्पिटल व सरकारी हॉस्पिटल के चुनिंदा स्टाफ कर्मचारियों को बुलाया गया है ,वही पुख्ता सूत्रों से मिली जानकारी अनुसार इस चल रही पार्टी में हर एक शक्श का पूरा पूरा ध्यान रखा जा रहा है !

Advertisement


जो जितने मरीज लायेंगा उसे मिलेंगी उतनी मोटी कमीशन व अच्छे से होंगी उसकी जेब गर्म

इंसानियत को शर्मसार कर रहे करनाल शहर के कई बड़े निजी हस्पतालों के संचालक व कुछ लालची सरकारी व निजी डॉक्टर ! करनाल शहर में यह धंधा रुकने का नाम नहीं ले रहा है ,निजी हस्पतालों में कैसे भी करके ज्यादा से ज्यादा घायल हुए ,एक्सीडेंट व किसी भी दुर्घटना में चोटिल हुए मरीजों को कैसे भी करके अगर आप हमारे हॉस्पिटल में लाओंगे तो आपको मिलेंगी अच्छी खासी कमीशन !

करनाल ब्रेकिंग न्यूज की यह मुहिम लगातार जारी रहेगी ,करनाल जिले के लोगों को सस्ता व अच्छा इलाज मिले हमारी यही प्राथमिकता है ! करनाल के सरकारी और निजी हस्पतालों में इस कमीशनखोरी के धंधे को खत्म करना ही हमारा लक्ष्य है !

इससे पहले भी हम कमीशनखोरी की कई खबरें आपको विस्तार से दिखा चुके है लेकिन लगता है कि करनाल शहर के तमाम सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधि व सत्ता पक्ष व विपक्षी पार्टियों के राजनेताओं को यह मामला गंभीर नहीं लगता ! उन्हें तो सिर्फ अपनी पब्लिसिटी से मतलब है अगर वह सब भी इस मामले को उठाने लगे तो वह दिन दूर नहीं जब करनाल के हर नागरिक का इलाज पूरी ईमानदारी से होंगा !





2 COMMENTS

  1. Bhai sahab Yeh Hai India Hai Yahan Par rule Bana Diye Jate Hain par follow nahi Kiye Jate Kyunki Jab Tak Sarkari naukri O Walo Ke Bache Sarkari school sarkari hospital mein ilaj nahi karwate tab tak Yeh hai essay he chalega

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.