होली के पावन अवसर पर कोर्ट के लाइब्रेरी हॉल में हास्य कवि सम्मेलन का हुआ आयोजन

0
Advertisement


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

जिला बार संघ की ओर से भाईचारे का संदेश देते हुए होली का पावन पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। कोर्ट के लाइब्रेरी हॉल में हास्य कवि सम्मेलन रखा गया, जिसमें शहर के मशहूर कवियों ने हास्य कविताएं पढक़र अधिवक्ताओं और न्यायाधीश को हंसने पर मजबूर कर दिया। जिला एवं सत्र न्यायाधीश ललित बत्तरा सहित अन्य न्यायाधीश विशेष रूप से समारोह में पहुंचे। जिला बार संघ के प्रधान निर्मल सिंह स्टौंडी ने अपने संदेश में कहा कि होली का पवित्र त्यौहार हमें पवित्रता, भाईचारे और बुराइयों को समाप्त करने के लिए प्रेरित करता है। उन्होंने कहा कि सामाजिक बुराइयां अभिशाप की तरह होती है। इनका जड़ से खात्मा करने के लिए सामुहिक प्रयास जरूरी हैं। वकीलों का यह प्रयास रहता है कि समाज में हो रहे गैन कानूनी कार्यों पर अंकुश लगाने में अपना यथासंभव योगदान दें। इस अवसर पर वकीलों ने न्यायाधीशों और प्रधान निर्मल सिंह स्टौंडी को गुलाल लगाकर होली की बधाई दी। वकीलों ने एक-दूसरे को भी गुलाल लगाया। कवि कृष्ण निर्माण, पवन पबाना, अभि एहसास, सतिंद्र राणा  व भारत भूषण ने हास्य कविताएं पढ़ सभी को लोटपोट कर दिया। इस अवसर पर जिला बार एसोसिएशन प्रधान निर्मल सिंह स्टौंडी, उपाध्यक्ष अभिषेक नागपाल, सचिव कनवदीप सिंह, सह सचिव मोहित चौधरी, कोषाध्यक्ष राहुल बंसल, रोशनलाल टूर्ण, रमाकांत शर्मा आदि मौजूद रहे।


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Advertisement









LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.