पंचदेव तीर्थ पाढा के सौंदर्यीकरण पर खर्च होंगे करीब 1 करोड़ 77 लाख रुपये, ग्रामीण पर्यटन के क्षेत्र में पंचदेव तीर्थ बनेगा लोगों की आस्था का केन्द्र – मुख्यमंत्री मनोहर लाल

0
Advertisement


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

मुख्यमंत्री मनोहर लाल के ग्रामीण क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए आज करनाल जिले के 13 तीर्थ स्थानों पर 200 कि.मी. की परिक्रमा करके हजारों श्रद्धालुओं की आस्था को उजागर किया है। सभी तीर्थ स्थानों पर हजारों की संख्या में लोगों ने मुख्यमंत्री के इस फैसले का धन्यवाद किया वहीं मुख्यमंत्री ने भी अपने संबोधन से पहले सभी तीर्थ स्थानों पर एकत्रित ग्रामीणों का अभिनंदन किया। उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि वर्षों से विकास की बाट जोह रहे हमारे तीर्थ स्थानों को अब नया आयाम मिलेगा।

Advertisement


किसी भी मुख्यमंत्री ने पहले तीर्थ स्थानों की सुध नहीं ली आने वाली पीढ़ी अपने पूर्वजों के संस्कारों को भूलने लग जाएगी परंतु मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने निर्णय लिया है कि कुरूक्षेत्र के 48 कोस के सभी 134 तीर्थों का विकास करके वहां पर फिर से आस्था का केन्द्र बनाया जाएगा। क्षेत्रीय स्तर के ही नहीं बल्कि बाहर के लोग इन तीर्थ स्थानों पर आकर आस्था से जुड़ेंगे। स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर मुहैया होंगे।

मुख्यमंत्री के तीर्थों के दौरे के दौरान पाढा में करीब तीन हजार लोगों की भारी भीड़ ने जहां मुख्यमंत्री का आभार प्रकट किया वहीं मुख्यमंत्री ने लोगों की आस्था को देखते हुए पंचदेव तीर्थ के सौंदर्यीकरण के लिए करीब 1 करोड़ 77 लाख रुपये की राशि देने की घोषणा की। ग्रामीणों की मांग थी कि कुछ वर्ष पहले पंचदेव तीर्थ पर हजारों श्रद्धालु दूसरे प्रदेशों से भी आते थे परंतु अब तीर्थ पर लोगों का आना कम हो गया है।

इस तीर्थ पर हर वर्ष भारी मेला लगता था, आस-पास के लोग यहां आते थे परंतु असुविधा के कारण लोगों को आना निरंतर कम हो गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब फिर वही समय आ गया है, आने वाले समय में भी यह तीर्थ आस्था का केन्द्र होगा। यहां पर हर जरूरी सुविधा दी जाएगी।

विधायक स. बख्शीश सिंह ने कहा कि आजादी के 71 सालों के बाद कोई तो हमारे तीर्थों की सुध लेना वाला आया है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल प्रदेश के ऐसे पहले मुख्यमंत्री हैं जो हमारे तीर्थों पर भ्रमण करके उनका जीर्णोद्धार करवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे हरियाणा के इतिहास में पहली बार हुआ है कि कोई मुख्यमंत्री करीब 19 करोड़ रुपये एक ही दिन में तीर्थों के विकास के लिए दे। उन्होंने कहा कि इस कार्य के लिए क्षेत्र के हजारों लोगों की कार्यक्रम में उपस्थिति ने मुख्यमंत्री के इस कार्य की सराहना भी की।

उन्होंने कहा कि विकास के मामले में भी मुख्यमंत्री ने कोई कसर नहीं छोड़ी है। पाढा गांव में लड़कियों का कॉलेज, गांव में पुस्तकालय के लिए 5 लाख रुपये की मंजूरी, करीब 20 करोड़ रुपये की लागत से पाढा से मिलने वाली सडक़ें अपने आप में विकास की एक अद्भुत मिसाल है।

भाजपा के वरिष्ठ कार्यकर्ता जगदेव पाढा ने अपने गांव में पहुंचने पर मुख्यमंत्री का आभार प्रकट किया और गांव में उनके द्वारा किए गए विकास कार्यों के लिए बधाई दी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी जो आपने इतने विकास कार्य हमारे गांव में किए हैं हमारे पास धन्यवाद करने के लिए शब्द भी नहीं है। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री जी शब्दों से नहीं बल्कि  आपके सामने बैठी हजारों की उपस्थिति इस बात का प्रमाण है।

इस मौके पर ओएसडी अमरेन्द्र सिंह, प्रदेश महामंत्री एडवोकेट वेदपाल, जिलाध्यक्ष जगमोहन आनंद, महामंत्री योगेन्द्र राणा, राजवीर शर्मा, मार्किट कमेटी के चेयरमैन गुलाब सिंह, हरियाणा ग्रंथ अकादमी के उपाध्यक्ष प्रो. वीरेन्द्र चौहान, गुरबख्श सिंह लाडी, राजेश आर्य, जय सिंह सरपंच, रणबीर गोयत, करतार सिंह सिंधड़, सुरेश जलमाना, डा. सुखबीर संधू, प्रशासन की ओर से उपायुक्त डॉ. आदित्य दहिया, एसपी एसएस भौरिया, कुरूक्षेत्र विकास बोर्ड के सीईओ संयम गर्ग, सदस्य सचिव मदन मोहन छाबड़ा, सदस्यों में विजय नरूला, केसी रंगा, श्याम बंसल, प्रो. सुचि सुमिता, उपेन्द्र सिंघल, सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी उपस्थित रहे।


शेयर करें।
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
Advertisement













LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.