मुख्यमंत्री ने किसानों के लिए गन्ने का मूल्य 10 रुपये बढ़ाकर लिया ऐतिहासिक फैसला, हरियाणा देश का पहला राज्य बना जहां गन्ने का सबसे ज्यादा मूल्य – नरेन्द्र गोरसी

0
Advertisement

जिला परिषद की वाईस चेयरपर्सन के पति व समाजसेवी नरेन्द्र गोरसी ने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल जैसा हरियाणा के इतिहास में मुख्यमंत्री नहीं आया जिसने बिना भेदभाव के पूरे प्रदेश में समान विकास करवाए हों, किसानों के लिए मुख्यमंत्री ने गन्ने का मूल्य 10 रुपये बढ़ाकर एक ऐतिहासिक फैसला लिया है। हरियाणा देश का पहला राज्य बन गया है जहां पर किसानों को उनके गन्ने का सबसे अधिक मूल्य मिलता हो।

गोरसी शुक्रवार देर रात्रि गांव टीकरी में जिला सूचना एवं जन सम्पर्क कार्यालय द्वारा आयोजित रात्रि चौपाल कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा हाल ही हमें गन्ने का मूल्य 10 रुपये बढ़ाया है जिसमें अगेती किस्म के गन्न के रेट 330 रुपये से बढक़र 340 रुपये प्रति क्विंटल हुआ, मध्यम किस्म गन्ने के रेट 325 रुपये से 335 रुपये प्रति क्विंटल व पछेती किस्म के गन्ने के रेट में 320 रुपये से 330 रुपये प्रति क्विंटल किये गए।

Advertisement


उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने हाल ही में निर्णय लिया है कि भादसों चीनी मिल द्वारा किसानों की जो भी पेमेंट बकाया है उसका आने वाले दिनों में भुगतान कर दिया जाएगा, इतना ही नहीं मुख्यमंत्री किसान हितैषी होने का प्रमाण देते हुए किसानों के लिए सहकारी बैंकों से जीरो प्रतिशत की ब्याज दर पर फसली ऋण उपलब्ध करवाने का भी फैसला लिया है।

उन्होंने कहा कि किसान की फसल निर्धारित मूल्य से कम न बिके इसके लिए भावांतर भरपाई योजना चलाई गई है। अब मुख्यमंत्री ने निर्णय लिया है कि किसान की कच्चे आलू की फसल को भी भावांतर भरपाई योजना में शामिल किया है जिससे किसान की आर्थिक हालत ठीक होगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने हर वर्ग का समान विकास किया है, प्रदेश में ऐसा कोई वर्ग नहीं जिसको विकास से न जोड़ा हो, प्रदेश में नौकरियों बिना रिश्वत के मिल रही हैं।

गोरसी ने कार्यक्रम में बोलते हुए कहा कि सरकार ने राज्य में सुशासन स्थापित करने तथा पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति के जीवन स्तर को ऊंचा उठाने के लिए अनेक कल्याणकारी योजनाएं चलाई हैं। यही नहीं इन योजनाओं के क्रियान्वयन को भ्रष्टाचार मुक्त बनाने के लिए महत्वपूर्ण कदम भी उठाए हैं। इन सभी कार्यों की जानकारी जनता तक पहुंचे इसके लिए जिम्मेवार सूचना, जन सम्पर्क एवं भाषा विभाग भी जनता के बीच निरंतर पहुंच रहा है और विशेष प्रचार अभियान के तहत सरकार द्वारा किए गए कार्यों का लोक गीतों के द्वारा बखान कर रहा है।

बता दें कि रात्रि चौपाल कार्यक्रम की शुरूआत प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल के निर्देशानुसार की गई है जिसके तहत हर जिले की ड्रामा पार्टी व सिनेमा यूनिट को निरंतर प्रचार-प्रसार के अतिरिक्त प्रत्येक माह में जिले के एक गांव में रात्रि ठहराव कर सरकार की जन कल्याणकारी नीतियों को जनता तक पहुंचाना आवश्यक है, ताकि जानकारी के अभाव में पात्र व्यक्ति सरकार की योजनाओं से होने वाले लाभ से वंचित न रहे।

इस अवसर पर ड्रामा यूनिट ने गीत, रागिनी व नाटक के माध्यम से हरियाणा सरकार द्वारा महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में चलाई गई उज्ज्वला योजना, हर 20 कि.मी. पर महिला कॉलेज की स्थापना, प्रत्येक जिले में महिला पुलिस थाने की स्थापना, उप-मंडल स्तर पर महिला हैल्प डैस्क की स्थापना, किसानों के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, भावांतर भरपाई योजना तथा सैनिकों के सम्मान में वन रैंक-वन पेंशन योजना सहित अनेकों योजनाओं व बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ और स्वच्छ भारत मिशन जैसे सामाजिक कार्यक्रमों के बारे में जानकारी दी गई।

कलाकारों ने कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के माध्यम से चलाई गई किसान हितैषी योजनाओं और पराली जलाने पर पर्यावरण पर होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी दी। इसके अतिरिक्त विभाग की सिनेमा यूनिट ने चलचित्र के माध्यम से सरकार द्वारा दी जाने वाली सरकारी नौकरियों के लिए अपनाई गई पारदर्शी नीति, किसान हित की योजनाओं, प्रदेश की जनता के लिए बढ़ाई गई स्वास्थ्य सुविधाओं और युवाओं के लिए चलाई गई सक्षम योजना व कौशल विकास योजनाओं का प्रचार किया।

इस मौके पर डीआई सूरज बेदी, स्टेज मास्टर हिशम सिंह सैनी, कलाकार शीशा राम, रामकुमार व सुमेर पाल, प्यारा लाल, आजाद सिंह, सिनेमा यूनिट में कुलभूषण शुक्ला, संदीप कुमार व कुलदीप सैनी मौजूद रहे।

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.