करनाल को स्वच्छ सर्वेक्षण में पिछले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष बेहतरीन रैंक प्राप्त होगा- डा0 योगेन्द्र मलिक

0
Advertisement

स्वच्छता अभियान से लोगों की जीवन शैली में बड़ा बदलाव आया है, खुले में शौच मुक्त प्रदेश इसी का परिणाम है। भारत सरकार द्वारा स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 करवाया जा रहा है, इस सर्वेक्षण मेें करनाल इस बार बेहतरीन रैंक प्राप्त करेगा जोकि हम सबके लिए बडे गौरव की बात होगी। यह बात हरियाणा के मुख्यमंत्री  के सलाहकार(स्वच्छता मिशन एवं बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान) डा0 योगेन्द्र मलिक ने मंगलवार को स्थानीय विकास सदन में स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 के लिए की गई तैयारियों की समीक्षा करने के उपरांत मीडिया से बातचीत करते हुए कहीं। इस मौके पर स्वच्छता मिशन हरियाणा के कार्यकारी उपाध्यक्ष सुभाष चंद्र, नगर निगम के कार्यकारी अधिकारी धीरज कुमार तथा जिला की सभी नगर पालिकाओं के सचिव भी उपस्थित थे।
बैठक में उन्होंने बताया कि स्वच्छता का सर्वेक्षण करने के लिए भारत सरकार की एक टीम अगले कुछ दिनों में करनाल में आएगी। यह टीम निष्पक्ष रुप से जिला के सभी शहरों की स्वच्छता की रिपोर्ट देगी। इस रिपोर्ट के आधार पर ही शहरों को  रैंकिंग मिलेगी। इसके लिए 4 हजार अंकों निर्धारित किए गए है, जिसमें 1400 अंक डारेक्ट अंक आब्र्जेवेशन, 1400 अंक सिटीजन फीडबैक तथा 1200 अंक डाक्यूमैंटेशन के रहेगें। नागरिक टीम के सदस्यों को अपने शहर में आए बदलाव की सही जानकारी देकर अपनी जिम्मेदारी निभाएं। इसमें मीडिया का सहयोग भी अपेक्षित है जो लोगों को जागरूक करते है। उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सपना है कि भारत के प्रत्येक शहर और गंाव को स्वच्छ बनाया जाए। भारत सरकार के प्रयास रंग ला रहे हैं। भारत सरकार से अलग हरियाणा के मुख्यमंत्री के प्रयासों से प्रदेश की अपनी स्वच्छता एप भी बनाई गई है। नागरिक इस मोबाईल एप का अधिक से अधिक से प्रयोग कर अपनी समस्या व समाधान दे सकते है। इस मोबाईल एप का प्रयोग करने बारे जिला प्रशासन की तरफ से स्कूलों, कालेजों, एनएसएस, एनसीसी कैडेट और पार्षदों को लगातार जागरुक किया जा रहा हैं। मोबाईल एप को डाउनलोड करने तक ही सीमित नहीं रहना बल्कि इस मोबाईल एप पर फीडबैक देना, शिकायत दर्ज करवाना, गंदगी से सम्बन्धित फोटो अपलोड करना जरुरी हैं, जब आम नागरिक इस मोबाईल एप का प्रयोग करेगा तो निश्चित ही सम्बन्धित शिकायत का समाधान होगा और शहर को स्वच्छ बनाया जा सकेगा।
डा0 योगेन्द्र मलिक ने करनाल  नगर निगम व नगर पालिकाओं की गतिविधियों की सहराना की और कहा कि इससे करनाल को स्वच्छ सर्वेक्षण में पिछले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष बेहतरीन रैंक प्राप्त होगा। उन्होंने सभी का आह्वान किया कि आप जो भी स्वच्छता मिशन को लेकर कार्य करते है उसकों सोशल मीडिया पर अपलोड करते  रहे तथा स्वच्छता को लेकर नये स्लोग्र पोस्ट करे, क्योंकि इन सभी स्लोग्रों व गतिविधियों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी स्वयं देखते है इसलिए ऐसा कोई प्रयास करे जो पूरे देश में एक मिसाल बन सके।
बैठक में स्वच्छता मिशन हरियाणा के कार्यकारी उपाध्यक्ष सुभाष चंद्र ने भी नगर निगम व नगर पालिकाओं द्वारा स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 की तैयारियों को लेकर की गई गतिविधियों की सहराना की। इस बार करनाल अवश्य ही स्वच्छता में शीर्ष स्थान हासिल करेगा। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि स्वच्छता को लेकर चलाई जा रही गतिविधियों को नियमित रूप से जारी रखे और लोगों में जागरूकता लाने का भरसक प्रयास करें। उन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि कुरूक्षेत्र और करनाल जिला में आज स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 की तैयारियों की समीक्षा की गई है। इस अवसर पर नगर निगम के कार्यकारी अधिकारी व नगर पालिका सचिवों ने स्वच्छता सर्वेक्षण 2018 में अव्वल स्थान प्राप्त करने के लिए चलाई गई गतिविधियों के बारे में जानकारी दी और बताया कि भारत सरकार द्वारा स्वच्छता अभियान को लेकर जो दिशा निर्देश जारी किए गए है उनकी दृढ़ता से पालना की जा रही है और इससे लोगों में स्वच्छता के प्रति जागरूकता आई है।
डा0 योगेन्द्र मलिक ने मीडिया के सवाल का जबाव देते हुए कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान से प्रदेश में लिंगानुपात में काफी सुधार हुआ है और अब लिंगानुपात में लड़कियों की संख्या का आंकडा 900 को पार कर गया है लेकिन लिंगानुपात में समानता लाने का पूरा प्रयास किया जा रहा है।
Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.