करनाल पुलिस की CIA 1 शाखा ने सुलझाई धान से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली की लूट की गुत्थी ,देखें Live

0
Advertisement


दिनांक 15.11.19 को मुस्ताक वासी ने थाना सदर करनाल में षिकायत दी कि बिती रात वह अपना ट्ैक्टर-ट्ाली लेकर जिसमें 348 बोरी धान लोड था साहरनपूर से करनाल आ रहा था, जैसे ही वह रंबा चैंकी क्षेत्र में करनाल इन्द्री रोड़ पर जे.के. कालेज के सामने पहुंचा तो पिछे से एक ब्रीजा गाड़ी आयी और उस चालक ने अपनी गाड़ी मेरे ट्ैक्टर-ट्ाली के सामने लगाकर उसका ट्ैक्टर-ट्ाली रोक लिया।

Advertisement


इसके बाद उस गाड़ी से पांच लोग निचे आये और उन्होंनें मेरे उपर पिस्टल तान दी व मुझे निचे उतार कर मेरे हाथ-पैर बांधकर बंधक बनाकर अपनी गाड़ी में डाल लिया। इसके बाद मै बेहोष हो गया व सुबह जब मुझे होष आया तो मैने अपने आपको नग्न अवस्था में खुबड़ु झाल सोनीपत में पाया। जिसके बाद मैने वहां आसपास के लोगों से कपड़े मांगें व उस स्थान का पता किया और फिर मै वापिस करनाल आया। मैने उस स्थान पर पहुंचकर देखा तो आरोपी मेरा धान से भरा ट्ैक्टर-ट्ाली भी लेकर फरार हो गए।

पुलिस द्वारा चालक की षिकायत पर थाना सदर करनाल में अज्ञात आरोपीयों के खिलाफ मुकदमा नं0- 1156/15.11.19 धारा 395,397,365,379-बी भा.द.स. व धारा शस्त्र अधिनियम के तहत दर्ज किया गया। यह मामला जैसे ही पुलिस अधीक्षक करनाल श्री सुरेन्द्र सिंह भौरिया के संज्ञान में आया, तो उन्होंनें मामले की गंभीरता को देखते हुए करनाल पुलिस की क्राइम युनिट सी.आई.ए-01 टीम के इन्चार्ज निरीक्षक दीपेन्द्र राणा को सौंपी गई।

निरीक्षक दीपेन्द्र राणा द्वारा उप-निरीक्षक नरेष के नेतृत्व में एक टीम का गठन कर मामले की जांच शुरू की गई। अनुसंधान अधिकारी नरेष कुमार ने घटनास्थल व जिस स्थान पर ड्ाईवर को फेंका गया था का गहनता से निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान पुलिस टीम को जो साक्ष्य बरामद हुए, उनके आधार पर पुलिस ने गुप्त सुत्रों का सहारा लिया।

दिनांक 24.11.19 को सुत्रों के हवाले से प्राप्त सुचना के आधार पर उप-निरीक्षक नरेष कुमार व उनकी टीम ने मामले में तीन आरोपीयों….. धीरज वासी राजलूगढ़ी जिला सोनीपत, सचिन उर्फ फोरड और गोविंद वासी पाणची जाटृटान जिला सोनीपत को राजलूगढ़ी में आरोपी….. धीरज के घर से ट्ैक्टर-ट्ाली से जीरी उतारते हुए गिरफतार किया। दिनांक 25.11.19 को पुलिस टीम द्वारा तीनों आरोपीयों को माननीय अदालत के सामने पेषकर पुलिस रिमांड हासिल किया गया।

दौराने रिमांड पुलिस टीम द्वारा की गई पूछताछ पर आरोपीयों द्वारा वारदात में शामिल अपने अन्य साथीयों….. जयप्रकाष वासी सेवली, अनिल पुत्र दीपालपर, विक्की वासी चिरीसमी और खन्ना वासी खरखौदा जिला सोनीपत के बारे खुलासा किया।

पुलिस टीम द्वारा आरोपीयों के कब्जे से लटा गया ट्ैक्टर-ट्ाली व 348 बोरी जीरी बरामद कर ली है। पुलिस जांच में सामने आया कि फरार आरोपीयों में आरोपी….. जयप्रकाष राई थाना का बी.सी. है और अनिल व खन्ना के खिलाफ भी कई अपराधीक धाराओं में मामले दर्ज हैं।

उपरोक्त आरोपीयों के पास ही वारदात में प्रयोग की गई गाड़ी व पिस्टल है। जो पुलिस फरार आरोपीयों की सरगर्मी से तलाष कर रही है और बहुत जल्द उन्हें भी गिरफतार कर सलाखों के पिछे पहुंचाया जाएगा।

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.