बी एस मॉड्रन सीनियर सेकण्डरी स्कूल में बड़ी धूमधाम से मनाया गया 26 जनवरी गणतंत्र दिवस !

0
Advertisement

करनाल : करनाल के वार्ड 17 शिव कॉलोनी में स्तिथ बी एस मॉड्रन सीनियर सेकण्डरी स्कूल में बड़ी धूमधाम से 26 जनवरी गणतंत्र दिवस मनाया गया ! स्कूल के डायरेक्टर राजेश चौहान व प्रिंसिपल अनामिका चौहान ने माँ सरस्वती की प्रतिमा के आगे दीपक जलने के बाद भारत का राष्ट्रीय ध्वजारोहण कर प्रोग्राम के शुरुआत की ! ध्वजारोहण के समय राष्ट्रीय धुन बजाई का प्रसारण किया गया।

डायरेक्टर राजेश चौहान ने कहा कि आज ही के दिन आजाद भारत का सविधान लागू हुआ था, जिससे हमारा समूचा शासन तंत्र चलता है। सविधान ने हमे मौलिक अधिकार दिए और वोट का अधिकार भी मिला, जो इसकी सबसे बड़ी विशेषता है। बेशक इसमे समय-समय पर कई संशोधन हुए, लेकिन आज भी भारतीय सविधान, दुनिया का सर्वश्रेष्ठ सविधान कहलाता है। उन्होने सविधान के रचियता बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर के साथ-साथ देश पर मर मिटने वाले अमर शहीदो का समरण कर उन्हे अपनी भावभीनी श्रदांजलि दी।

Advertisement


प्रिंसिपल अनामिका चौहान ने कहा की देश की आजादी के लिए हमारे वीर जवान शहीद हुए और सीमा पर सैनिक हमारी रक्षा करते हैं, जो देश सेवा की एक सबसे बड़ी मिसाल है। दूसरी ओर जो लोग देश के भीतर रहकर ईमानदारी, कर्तव्यनिष्ठा और लगन से कार्य कर रहे हैं, वह भी देश की सेवा में लगे हैं। उन्होने कहा कि हमे आज के दिन यह संकल्प लेना है, कि हम नागरिको के लिए शहर को सभी आवश्यक व समय पर सुविधाएं देने के लिए वचनबद्घ रहेंगे, गंदगी नही होने देंगे।

स्कूल टीचर मैडम शालिनी ने राष्ट्रीय तिरंगा झण्डा के महत्व बारे बताया कि यह राष्ट्रीय एकता, अखण्डता और गौरव का प्रतीक है तथा यह झण्डा त्याग, बलिदान और उत्साह का इतिहास है । मैडम शालू ने बच्चो को सम्बोदित करते हुए कहा की आज हम आजादी के खुले वातावरण में गणतंत्र की खुशबू से सराबोर है। हमें यह नहीं भूलना चाहिए कि आजादी की कीमत चुकाने के लिये हमारे देश के कितने असंख्य रणबाकुरों ने अपने प्राणों का बलिदान दिया। आजादी के बाद जब-जब भी देश पर कोई संकट आया तो सभी ने एक जुट होकर देश की एकता और अखण्डता को बनाए रखा।

चाहे 1962 में चीन के साथ लड़ाई हो या पाकिस्तान के साथ 1965 व 1971 का युद्ध हो। भारतीय सेनाओं ने अदम्य साहस और अद्भूत शौर्य का परिचय देकर हमेशा देश का मस्तक ऊंचा रखा और तिरंगे झण्डे पर किसी भी तरह की आंच नहीं आने दी। हमें देश के उन जवानों पर गर्व है और गर्व रहेगा। हरियाणा प्रदेश के वीर जवान भी कुर्बानी देने के लिए सबसे आगे वाली पंक्ति में खड़े नजर आते है। इतना ही नहीं आज भारतीय सेना में हर दसवां जवान हरियाणा प्रदेश का है, यह हम सब के लिए गौरव की बात है।

मैडम कौशल शर्मा ने कहा की आजादी के बाद भारत देश ने हर क्षेत्र में तरक्की की है। कभी देश को छोटी-छोटी चीजों के लिए दूसरे देशों पर निर्भर रहना पड़ता था, लेकिन अब सुंई से लेकर हवाई जहाज तक हमारे देश में बनाए जाते है। भारत देश हर क्षेत्र में प्रगति के नये-नये आयाम स्थापित कर रहा है। सुरक्षा की दृष्टि से भी आज पूरी दुनिया में भारत की सेना का लोहा माना जाता है। यों कहिए कि आज भारत देश विश्व में तीसरी शक्ति के रूप में उभर रहा है।

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.