डीसी ने निगदू में बन रहे उप-तहसील कार्यालय का किया निरीक्षण

0
Advertisement

मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सरकार द्वारा प्रदेश में अनेक कल्याणकारी स्कीमों के तहत विकास के कार्य करवाए जा रहे हैं। करनाल में भी मुख्यमंत्री की घोषणाओं के तहत कई परियोजनाओं पर काम चल रहा है। जिला के निगदू कस्बे में लगभग चार करोड़ रूपये की लागत से करीब तीन एकड़ क्षेत्र में से  लगभग 9 हजार वर्ग फीट कवर्ड क्षेत्र में दो मंजिला उप-तहसील कार्यालय का निर्माण कार्य चल रहा है। इस निर्माण कार्य के निरीक्षण के लिए डीसी डा० आदित्य दहिया मंगलवार को निर्माण स्थल पर पहुंचे और  चल रहे निर्माण कार्य का बारीकी से निरीक्षण किया। मौके पर उपस्थित लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों से इस विषय को लेकर विस्तार से जानकारी ली। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने डीसी को बताया कि इस सब-तहसील कार्यालय का निर्माण कार्य आगामी 25 नवम्बर तक पूरा करना है। इसका निर्माण कार्य सितम्बर 2016 में शुरू किया गया था।

Advertisement


डीसी ने अधिकारियेां  को निर्देश दिए कि सब-तहसील का निर्माण कार्य मुख्यमंत्री की घोषणा के तहत किया जा रहा है इसलिए इस कार्य में किसी भी प्रकार की कतई देरी नहीं होनी चाहिए । इसका निर्माण कार्य निर्धारित समय में अवश्य पूरा कर लिया जाए, निर्माण कार्य में प्रयोग की जा रही सामग्री का विशेष ध्यान रखा जाए और निर्माण सामग्री निर्धारित मापदंडो के अनुसार प्रयोग की जाए। पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों ने डीसी को यह भी बताया कि प्रत्येक तल पर 11 कमरों की व्यवस्था की जा रही है जिसमें ई-दिशा केन्द्र, सब-रजिस्ट्रार कार्यालय, रिकॉर्ड रूम तथा अन्य विभागों के कार्यालय स्थापित किए जाएंगे। इस भवन में लिफ्ट की व्यवस्था भी की जाएगी।

डीसी ने भवन की दोनों मंजिलों पर जाकर निर्माण कार्य को देखा और अधिकारियों को निर्देश दिए कि भवन से पानी की निकासी का उचित प्रबंध होना चाहिए। पौधा रोपण की व्यवस्था भी की जाए, साथ ही सभी तलों पर शौचालयों की व्यवस्था करवाएं। इससे पूर्व डीसी आदित्य दहिया ने नीलोखेड़ी नगरपालिका के  कार्यालय में पहुंचकर अधिकारियों से नगरपालिका क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यों के संबंध में जानकारी ली और निर्देश दिए कि नगरपालिका क्षेत्र में पार्को में सुव्यवस्था, सार्वजनिक शौचालयों, मोबाईल शौचालयों तथा कचरा प्रबंधन पर भी विशेष ध्यान दें और आगामी समय में क्षेत्र के विकास के लिए बेहत्तर योजनाएं तैयार करें। डीसी को एमई प्रियंका सैनी को निर्देश दिए कि वे गोल मार्किट में बने पार्क की व्यवस्था को और बेहतरीन करें। मौके पर उपस्थित एमई ने बताया कि इस पार्क को स्वर्ण जयंती पार्क के  रूप में विकसित किया जाना है जिस पर लगभग 70 लाख 58 हजार रूपये की धनराशि खर्च होगी। इस पर डीसी ने सम्बन्धित अधिकारी को निर्देश दिए कि पार्क की तकनीकी स्वीकृति जल्द मंगवाना सुनिश्चित करें और इस पार्क में ओपन एयर जिम, रोशनी के लिए एलईडी लाईट्स, बच्चों के लिए झूले, सैर करने वालों के लिए जोगिंग पाथ की व्यवस्था के साथ-साथ पानी की निकासी के बेहत्तर प्रबंध किए जाएं।
एमई ने डा० दहिया को यह भी बताया कि नगरपालिका क्षेत्र को खुले मे शौचमुक्त करने के दृष्टिगत लगभग दस लाख रूपये की लागत से 5 मोबाईल शौचालयों तथा 5 लाख की लागत से वॉटरलेस यूरिनल युनिट लगवाए जा रहे हैं । इस पर डीसी ने सम्बन्धित अधिकारियों के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि विकास की दृष्टि से यह अच्छा कदम है। इस मौके पर एसडीएम योगेश कुमार, तहसीलदार दर्पण काम्बोज, नगरपालिका की एमई प्रियंका सैनी सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Advertisement


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.